Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme 2021 : अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र, ऑनलाइन आवेदन

महाराष्ट्र सरकार के माध्यम से इंटर-कास्ट मैरिज को प्रोत्साहित करने और भेदभाव की घटनाओ की ख़त्म करने के लिए राज्य द्वारा अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र को आरम्भ किया है। इस योजना के तहत यदि कोई  इंटर-कास्ट मैरिज करता है तो उसे 50000 रूपये की प्रोत्साहन राशि दी जाती। इस योजना को शुरू काने का मुख्य उद्देश्य यह है की राज्य में इंटर-कास्ट मैरिज को प्रोत्साहित करके जातिगत भेद-भाव को रोका जा सके, इसी बात को ध्यान में रखते हुए, राज्य सरकार ने Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme का लाभ 50000 रूपये से बढ़ा 3 लाख रुपये कर दी है, जिसके बाद अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2021 के द्वारा शादी करने वाले जोड़े को 3 लाख रूपये की धनराशि देकर आर्थिक रूप से सहायता दी जाएगी। तो दोस्तों यदि आप अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र का लाभ लेना चाहते है तो आपको हमारे इस आर्टिकल को पूरा विस्तार से पढ़ना होगा।

In order to encourage inter-caste marriage and to eliminate the incidents of discrimination, through the Maharashtra government, the state has started the inter-caste marriage scheme Maharashtra. Under this scheme, if someone does an inter-caste marriage, then an incentive amount of Rs 50000 will be given to him. The main objective of starting this scheme is that caste discrimination can be prevented by encouraging inter-caste marriage in the state, keeping this in mind, the state government has given the benefit of Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme Rs. 50000. 3 lakh, after which the couple getting married through Inter-caste Marriage Scheme Maharashtra 2021 will be given financial assistance by giving an amount of Rs 3 lakh. So friends, if you want to take advantage of the inter-caste marriage scheme Maharashtra, then you have to read our article in full detail.

Voluntary Retirement Scheme 2021
Voluntary Retirement Scheme 2021

Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme 2021

महाराष्ट्र सरकार के माध्यम से Inter-Caste Marriage में होने वाले भेदभाव को कम करने के लिए अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र को आरम्भ किया है। राज्य सरकार के अनुसार इस योजना के माध्यम से विवाह करने वाले जोड़े को सहयता के रूप में 3 लाख रूपये धनराशि मिलेगी, और किसी भी सामान्य श्रेणी के लड़के के तहत अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की लड़की के साथ विवाह करने पर Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme का लाभ दिया जाएगा। महाराष्ट्र सरकार के तहत विशेष विवाह अधिनियम या हिंदू विवाह अधिनियम, 1955,1954 के तहत विवाह पंजीकरण करने पर वे सभी महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना 2021 का लाभ उठा सकते है। राज्य सरकार ने Inter-Caste Marriage को प्रोत्साहन करने के उदेश्य से इस योजना को शुरू किया है, जिसके तहत लाभार्थी को राशि केंद्र और राज्य सरकार के माध्यम से दी जाएगी।

Maharashtra Ration Card List 2021- महाराष्ट्र राशन कार्ड सूची, mahafood.gov.in

Highlights of Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme

योजना का नामअंतरजातीय विवाह योजना
आरम्भ की गईमहाराष्ट्र सरकार द्वारा
लाभार्थीअंतरजातीय विवाह करने वाले दंपत्ति
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यअंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहित करना
लाभ3 लाख रूपये सहायता
श्रेणीमहाराष्ट्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटsjsa.maharashtra.gov.in/

महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना का मुख्य उद्देश्य

हम सभी लोग जानते है की आज भी हमारे देश में रूढ़िवादी विचारों वाले ऐसे कई अन्य नागरिक है। हमारा देश में इस चलते समय में भी कई जगहों पर Inter-Caste Marriage को लेकर बुरा व्यवहार करते है, इसी समस्या को देखते हुए, राज्य सरकार ने अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र को शुरू किया है, जिससे इस योजना के राज्य सरकार सामान्य श्रेणी के युवक द्वारा किये अन्तर कास्ट मेर्रिज पर 3 लाख रूपये की राशि देकर आर्थिक रूप से सहयता करेगी। Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme के तहत लाभ पहले 50000 रूपये दिया जाता था, जिसको अब बढ़ा कर 3 लाख कर दिया है, और इस योजना को शुरू करना मुख्य उदेश्य की Inter-Caste Marriage करने वाले जोड़े की सहत्यता करना जिससे वह अपना जीवन आसानी से यापन कर सके।

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2021 पात्रता मानदंड

  • इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए युवक और युवती की उम्र 21 वर्ष और युवती की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होना अनिवार्य है।
  • महाराष्ट्र राज्य का कोई भी नागरिक अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र के तहत आवेदक करना चाहता है, तो वह महाराष्ट्र का मूल-निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के तहत अगर कोई भी अनुसूचित जाति या जनजाति का व्यक्ति किसी पिछड़े वर्ग या सामान्य वर्ग के युवक या युवती से विवाह करता है, तो केवल वे ही अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र का लाभ ले पाएगे।
  • Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme का लाभ लेने के लिए विवाहित जोड़े में से किसी भी एक का अनूसूचित जाति या जनजाति से सम्बन्ध रखना चाहिए।
  • इस योजना के तहत मिलने वाली प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए केंद्र और राज्य सरकार के माध्यम विवाहित जोड़े का कोर्ट मैरिज होना चाहिए।

Inter-Caste Marriage Scheme 2021 आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • कोर्ट मैरिज का प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप महाराष्ट्र के नागरिक है और आप अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है, तो उसके लिए आपको निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले आपको सामाजिक न्याय और विशेष सहायता विभाग, महाराष्ट्र सरकार की sjsa.maharashtra.gov.in/ पर जाना होगा, इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको अंतरजातीय विवाह योजना के विकल्प पर क्लिक कर देना है, अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इसके बाद आपको इस पेज पर एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा, आपको इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में सभी पूछी गई जानकारी को भर देना होगा, जैसे की – नाम ,विवाह की तारीक आधार नंबर आदि।
  • आपके द्वारा रजिस्ट्रेशन फॉर्म में भर गई जानकारी के बाद आपको सभी दस्तावेज़ों को अटैच कर देना है, और उसके बाद आपको भरी गई जानकारी की जांच कर लेनी है। 
  • सभी जानकारी की जांच करने के बाद आपको “सबमिट” बटन पर क्लिक कर देना है। 
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे तो, अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र में ऑनलाइन आवेदन  प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *